कांग्रेस का अदूरदर्शी

Reading Time: 3 minutes राजनैतिक दल में तानाशाही न हो, परंतु अपनी जमीन पाने की कोशिश में लगी कांग्रेस अगर बगावती नेताओं को बाहर का रास्ता दिखाने की बजाय उन्हें महत्वपूर्ण पद देती रहेगी तो उसे अपनी और भी अधोगति के लिये तैयार रहना चाहिये। अगर कोई पूछे कि देश के सबसे बड़े राजनैतिक दल कांग्रेस की ऐसी हालत […]

लोकतंत्र के स्तंभों में संतुलन का अभाव

Reading Time: 6 minutes संविधान में अंग्रेजों के जमाने के कानूनों के कारण राजनीतिक दलों पर नियंत्रण की कोई वैधानिक और बाध्यकारी व्यवस्था नहीं हुई। जिसका असर ये हुआ कि देश मे एक शोषक वर्ग का जन्म होने लगा। राजनीतिक पहुँच वाले व्यक्ति कोई भी अपराध करके साफ बच निकल जाते है। लोकतांत्रिक देशों की कतार में भारत सबसे […]

सैन्य मोर्चों पर कितना मजबूत भारत

Reading Time: 4 minutes गलवान घाटी में हुई घटना के बाद दुनियाभर के देश भारत के पक्ष में आ खड़े हुए थे। सभी देशों ने एक सुर में चीन की विस्तारवादी नीति की निंदा की थी। दरअसल, चीन के वर्तमान भू-भाग का एक बड़ा हिस्सा उसकी विस्तारवादी नीति का नतीजा है। जिसकी वजह से उसके तकरीबन हर पड़ोसी देश […]

अघोषित आपातकाल के जबड़े में देश

Reading Time: 3 minutes नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा है कि अच्छे दिन के नाम पर यह महान देश अघोषित आपातकाल के जबड़े में फंस गया है। इसकी मुक्ति के लिए भारत समाचार टीवी और दैनिक भास्कर पर सरकारी हमले का विरोध कीजिए और इनका साथ दीजिए शुक्रवार को मिलने आए साथियों से नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने […]

error: Content is protected !!
Designed and Developed by CodesGesture